लिवर ट्रांसप्लांटेशन सर्जरी


लीवर ट्रांसप्लांट एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसमें मरे हुए या जीवित दाता से लिए गए स्वस्थ लीवर को ट्रांसप्लांट करने की प्रक्रिया से, लिवर द्वारा काम करने में विफल होने के मामले का उपचार किया जाता है।

OUR STORY

Know About Us

Why Manipal?

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हेपेटोलॉजी की शाखा के तहत आने वाला, मणिपाल हॉस्पिटल्स का लीवर ट्रांसप्लांट कार्यक्रम देश में अपनी तरह का सबसे बड़ा कार्यक्रम है। लीवर प्रत्यारोपण कार्यक्रम में सर्जनों, डॉक्टरों, नर्सों और अन्य स्वास्थ्य पेशेवरों की एक टीम होती है, जो प्रत्यारोपण प्रक्रिया के माध्यम से रोगी और रोगी के परिवार की देखभाल करती है। मणिपाल हास्पिटल रोगी की व्यक्तिगत जरूरतों पर केंद्रित गुणवत्तापूर्ण देखभाल प्रदान करता है। एक ही स्थान पर कई प्रकार की विशेषज्ञता-पूर्ण सेवाएं दिए जाने के कारण रोगी पर ध्यान केंद्रित करने से रोगी को अपने रोग निवारण के लिए केवल एक नहीं बल्कि कई राय मिलती हैं।

Treatment & Procedures

प्रत्यारोपण और ऑपरेशन के बाद की…

यदि दान में उपयुक्त यकृत मिल गया है, तो सर्जन मरीज में दाता के यकृत को ट्रांसप्लांट करने का काम करते हैं। फिर रोगी को दर्द का प्रबंधन करने, संक्रमण से बचाए रखने और प्रतिरक्षा तंत्र का निरोध करने के लिए उपयुक्त दवाओं का सेवन कराया जाएगा। प्रतिरक्षादमनकारी दवाओं का सेवन यह सुनिश्चित करने के लिए कराया जाता है कि शरीर में दान से प्राप्त हुआ जो नया यकृत…

Read More

लिविंग डोनर लिवर ट्रांसप्लांट

इस प्रक्रिया में, एक स्वस्थ दाता के यकृत का एक हिस्सा निकाला जाता है और उस मरीज में प्रत्यारोपित किया जाता है जिसे यकृत की जरूरत होती है। परिवार के सदस्यों के बीच ये प्रक्रियाएं सबसे आम हैं, क्योंकि उनमें एक-दूसरे से मेल खाने का सबसे ज्यादा संभावनाएं होती हैं। दाता को सामान्य रूप से कार्य करने में सक्षम होने के लिए स्वस्थ होने में लगभग 8 सप्ताह तक…

Read More

यकृत कई महत्वपूर्ण कार्य करने वाला सबसे बड़ा आंतरिक अंग है, और यकृत प्रत्यारोपण के लिए आमतौर पर तब कहा जाता है जब यकृत की दीर्घकालिक बीमारी या पहले सामान्य रूप से कार्य कर रहे यकृत की कार्यप्रणाली में व्यवधान आने से यह उन कार्यों को करना बंद कर देता है।

लेकिन दान में मिलने वाले  यकृत की संख्या की तुलना में लिवर ट्रांसप्लांट की प्रतीक्षा कर रहे लोगों की संख्या अधिक होती है। इसलिए, मणिपाल हास्पिटल परिवार के सदस्यों या दोस्तों को आगे आने के लिए प्रोत्साहित करता करता है क्योंकि उनका  यकृत, रोगी के लिए आवश्यक यकृत से बहुत अधिक मेल खा सकता है और वे अपने यकृत का एक हिस्सा दान कर सकते हैं। मानव यकृत तेजी से पुन: उत्पन्न होता है और सर्जरी के तुरंत बाद अपने मूल आकार में लौट आता है, और इसलिए मृतक-दाता का  यकृत उपलब्ध होने की प्रतीक्षा करने के बजाय यह जीवित-दाता से यकृत का हिस्सा लेकर ट्रांसप्लांट करने को सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है।

Facilities & Services

यकृत, जीवन की गुणवत्ता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सबसे जटिल अंगों में से एक है। लीवर ट्रांसप्लांटेशन जीवन की बेहतर गुणवत्ता बहाल करता है और रोगियों को स्वस्थ जीवन जीने में मदद करता है। ट्रांसप्लांटेशन की आवश्यकता के कुछ कारणों में तीव्र यकृत विफलता, बिलियरी एट्रेसिया (पित्त गतिहीनता),सिरोसिस, हेपेटाइटिस (वायरल, ऑटोइम्यून और इडियोपैथिक), लीवर ट्यूमर, चयापचय संबंधी रोग, पोर्टल हाइपरटेंशन, प्राइमरी बिलियरी सिरोसिस, एवं प्राइमरी स्क्लेरोजिंग चोलंगिटिस शामिल हैं। मणिपाल हास्पिटल में लीवर से संबंधित सबसे महत्वपूर्ण समस्याओं का निवारण करने की व्यवस्था हैं।

FAQ's

A liver transplant can have excellent outcomes. Recipients have been known to live a normal life over 30 years after the operation. Looking for liver transplantation surgery in Bangalore, visit Manipal Hospitals.

किसी भी अन्य अंग के प्रत्यारोपण की तरह लीवर प्रत्यारोपण भी रोगी की पसंद के आधार पर होता है। लेकिन एक नया यकृत जीवन के लिए एक ऐसा उपहार होता है जिसका महत्व समझने और देखभाल करने की आवश्यकता होती है। लिवर ट्रांसप्लांट सर्जरी के बारे में अधिक जानने के लिए हमसे संपर्क करें और आज ही हमारे किसी सर्जन के साथ अपॉइंटमेंट बुक करें।

Blogs

Homecare icon अपॉइंटमेंट
Homecare icon स्वास्थ्य जांच
Homecare icon होम केयर
हमसे संपर्क करें
सीओओ को लिखें
review icon हमारी समीक्षा करें
हमें कॉल करें