प्रसूति और स्त्री रोग


महिलाएं अपने जीवनकाल में कई प्रकार के जैविक और मनोदैहिक परिवर्तनों की श्रृंखला से गुजरती हैं, बच्चा पैदा करना उनमें से एक है। प्रसूति और स्त्री रोग उत्कृष्टता केंद्र महिलाओं और बच्चे की स्वास्थ्य देखभाल के सभी पहलुओं को शामिल करते हुए उत्कृष्ट और समग्र उपचार और सुविधाओं की पेशकश करने के लिए कई प्रकार की विशेष सेवाए प्रदान करने वाली सुविधाओं से अच्छी तरह संपन्न है।

OUR STORY

Know About Us

Why Manipal?

मणिपाल हॉस्पिटल महिलाओं से जुड़ी सभी स्वास्थ्य विकारों के लिए सबसे अच्छा वन-स्टॉप समाधान है। द्वारका, दिल्ली में हमारे पास सबसे अच्छे प्रसूति और स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं, जिनका उद्देश्य महिलाओं के लिए सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करना है। जनवरी 2018 में द्वारका, दिल्ली में स्थापित, मणिपाल हॉस्पिटल सबसे अच्छा प्रसूति और स्त्री रोग हॉस्पिटल है, जिसमें द्वारका और उसके आसपास के अनुभवी और प्रतिष्ठित डॉक्टरों के साथ एक ओबीजी टीम है। हमारा विभाग विश्व स्तरीय सेवाएं प्रदान करता है और हमारे सभी रोगियों को समर्पित चिकित्सा सहायता प्रदान करता है।

Treatment & Procedures

पैप स्मीयर

संक्षिप्त विवरण o पैप स्मीयर या पैप टेस्ट ऐसी योनि परीक्षा है जिसमें गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर के लिए रोगी की स्क्रीनिंग की जाती है। यह कार्य कैंसर-पूर्व कोशिकाओं/ कैंसर कोशिकाओं की असामान्य वृद्धि और अन्य संकेतों की जांच की करने के लिए गर्भाशय ग्रीवा कोशिकाओं को इकट्ठा करने के लिए एक स्वैब लेकर किया जाता है। यह एक सरल प्रक्रिया है जिसमें लगभग 5 मिनट…

Read More

गैर-तनाव परीक्षण (एनएसटी)

संक्षिप्त विवरण: o एक गैर तनाव परीक्षण (एनएसटी) भ्रूण के स्वास्थ्य के लिए किया जाने वाला परीक्षण होता है। यह तीसरी तिमाही में भ्रूण की हृदय गति और भ्रूण की गतिविधियों के प्रति उसके हृदय की अनुक्रिया को मापता है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि बच्चा स्वस्थ है। प्रक्रिया से पहले से पहले: o आपको नाश्ता/पानी/जूस लेने की सलाह दी जाती है क्योंकि इससे बच्चे…

Read More

असिस्टेड रिप्रोडक्शन में फॉलिक्युलर…

कुछ लोगों का गर्भाधान स्वाभाविक रूप से हो सकता है, जबकि अन्य के लिए सहायक प्रजनन या प्रजनन उपचार की आवश्यकता होती है - जिसमें फॉलिक्युलर स्कैन या फॉलिक्युलर इमेजिंग का उपयोग करके ओव्यूलेशन (अंडोत्‍सर्ग) का समय निर्धारित करना शामिल है। फॉलिकल्स, जो अंडाशय के अंदर पाए जाने वाले तरल पदार्थ से भरे छोटे थैले होते हैं, हार्मोन स्रावित करते हैं और इसमें एक…

Read More

रजोनिवृत्ति क्लिनिक

रजोनिवृत्ति एक स्‍वाभाविक जैविक प्रक्रिया है जो आपके पीरियड्स या मासिक धर्म के अंत को चिह्नित करती है। रजोनिवृत्ति के लक्षण रजोनिवृत्ति के संकेत और लक्षण व्यक्तियों के बीच अलग-अलग हो सकते हैं और इसमें शामिल हैं: हॉट फ़्लैश भावनात्मक बदलाव नींद में खलल निम्न ऊर्जा स्तर अनियमित पीरियड्स योनि का सूखापन ठंडे तापमान के प्रति संवेदनशील (ठंड लगना) ओ मिजाज…

Read More

पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि रोग (पीसीओडी)

इसे पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) के रूप में भी जाना जाता है, पीसीओडी को हार्मोनल असंतुलन और महिलाओं में पुरुष हार्मोन के उच्च स्तर के रूप में भी जाना जाता है। पीसीओडी के सामान्य लक्षणों में निम्नलिखित शामिल हैं: o अंडाशय में एक से अधिक अल्‍सर o कोई ओव्यूलेशन (अंडोत्‍सर्ग) नहीं o अनियमित पीरियड्स o सिर दर्द o मुंहासे / फुंसी o हिर्सुटिज़्म (चेहरे…

Read More

उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था

उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था आपको और आपके अजन्मे बच्चे को गर्भावस्था और प्रसव के दौरान विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम में डालती है। उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था वाली माताओं को अपनी गर्भावस्था के दौरान विशेष निगरानी और देखभाल की जरूरत होती है। संभावित जोखिम कारक जो उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था का कारण बन सकते हैं उनमें शामिल हैं: o अधिक उम्र में मां…

Read More

आईयूसीडी इंसर्शन

संक्षिप्त विवरण: o एक आईयूसीडी या इंट्रा-यूटेराइन कॉन्ट्रसेप्टिव डिवाइस या क्वाइल अंग्रेजी के अक्षर टी के आकार का प्रत्यारोपण होता है जिसमें पर तांबा या हार्मोन संसेचित होते हैं जिसे गर्भावस्था को रोकने के लिए गर्भाशय (गर्भ) में रखा जाता है। यह महिला गर्भनिरोधन का एक सुरक्षित और प्रभावी गैर-स्थायी तरीका है। प्रक्रिया से पहले: o गर्भावस्था या संक्रमण…

Read More

आउट पेशेंट इनपेशेंट और आपातकालीन…

आउट पेशेंट इनपेशेंट और आपातकालीन सेवाएं हमारे स्त्री रोग विशेषज्ञों से मिलने के लिए महिलाओं और शिशुओं का आना जाना लगा रहता है, इनके लिए हमारी आउट पेशेंट और इनपेशेंट इकाई कई प्रकार की स्त्रीरोग संबंधी स्थितियों का निदान और उपचार करने के लिए सुसज्जित है, जिनके सर्जरी या हास्पिटल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती है। स्क्रीनिंग टेस्ट, अल्ट्रासाउंड…

Read More

सर्विकल बायोप्सी

यह भविष्य में रोगी के स्वास्थ्य के लिए खतरा बन सकने वाले गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर और कैंसर से पूर्व की स्थितिओं का पता लगाने के लिए गर्भाशय ग्रीवा से ऊतक का एक छोटा सा टुकड़ा निकालने की प्रक्रिया है। बायोप्सी काफी हद तक दर्द मुक्त प्रक्रियाएं होती हैं जिनके घाव भरने के लिए ज्यादा लंबे समय की आवश्यकता नहीं होती है।

Read More

यूएसजी स्कैन

संक्षिप्त विवरण: o प्रसूति संबंधी अल्ट्रासाउंड में, गर्भवती महिलाओं के भीतर विकासशील भ्रूण एवं साथ ही साथ माँ के गर्भाशय और अंडाशय की छवियाँ बनाने के लिए ध्वनि तरंगों का उपयोग किया जाता है। इसमें आयनकारी विकिरण का उपयोग नहीं किया जाता है और इसके कोई ज्ञात हानिकारक प्रभाव नहीं हैं। प्रक्रिया से पहले: o परीक्षण से पहले आपको खूब पानी पीना चाहिए क्योंकि…

Read More

कैंसर स्क्रीनिंग - पैप स्मीयर,…

कैंसर स्क्रीनिंग: पैप स्मीयर, एचपीवी टेस्ट, कोल्पोस्कोपी कैंसर को रोका जा सकता है और उपयुक्त परीक्षण करने से महिलाओं में इस रोग की किसी भी संभावना का पता लगाया जा सकता है। पैप स्मीयर, जिसे पैप टेस्ट भी कहा जाता है, सर्वाइकल कैंसर के लिए एक स्क्रीनिंग प्रक्रिया है। इसमें आपकी गर्भाशय ग्रीवा यानी गर्भाशय की ओपनिंग पर कैंसर पूर्व विकसित होने वाली या कैंसर…

Read More

हिस्टेरेक्टॉमी

गर्भाशय को सर्जिकल तरीके से हटाने को हिस्टेरेक्टॉमी कहा जाता है। यह तब किया जाता है जब यूटेराइन फाइब्रॉएड, कैंसर, यूटेराइन प्रोलेप्स (गर्भाशय का अपनी स्थिति से बाहर हो जाना), एडिनोमायोसिस (गर्भाशय की दीवारों का असामान्य रूप से मोटा होना), एंडोमेट्रियोसिस और गर्भाशय में होने वाली ऐसी अन्य असामान्यताओं से गर्भाशय प्रभावित होता है जो कि रोगी के स्वास्थ्य…

Read More

परिवार नियोजन सेवाएं बंध्याकरण…

परिवार नियोजन सेवाएं: बंध्याकरण और गर्भनिरोधक सलाह जो बच्चे के जन्म को स्थगित करना चाहते हैं, या बच्चे होना रोकना चाहते हैं, उन लोगों को हमारी परिवार नियोजन सेवा इकाई आना चाहिए। हमारे स्त्री रोग विशेषज्ञ आपको सर्वोत्तम संभव गर्भनिरोधक और नसबंदी विकल्पों पर सलाह देते हैं। महिलाओं में नसबंदी के लिए सर्जिकल प्रक्रिया ट्यूबल लिगेशन है, जिसमें फैलोपियन…

Read More

परिवार नियोजन

गर्भावस्था के लिए महिला को तैयार करना परिवार नियोजन का महत्वपूर्ण हिस्सा है, जहाँ एक विशेषज्ञ प्रजनन क्षमता और साथ ही साथ गर्भावस्था और प्रसव के जोखिम का भी पता लगाता है। बच्चे पैदा करने का प्रयास करने से पहले स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श करना गर्भावस्था और प्रसव के अनुभव में नाटकीय रूप से सुधार कर सकता है।

Read More

प्रसवोत्तर देखभाल

प्रसवोत्तर देखभाल प्रसवोत्तर देखभाल (पीएनसी) जन्म के तुरंत बाद और जीवन के पहले छह हफ्तों के लिए मां और उसके नवजात शिशु को दी जाने वाली देखभाल है। महिलाएं ऐसे हार्मोनल परिवर्तनों से भी गुजर सकती हैं जो उनके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं, या उन्हें स्तनपान कराने में आने वाली समस्याएं हो सकती है। मणिपाल हास्पिटल क्यों चुनें मणिपाल हास्पिटल्स…

Read More

यौवन विकार

यौवन विकार यौवन वह प्रक्रिया है जिससे लड़की का शरीर वयस्क होकर युवती के रूप में विकसित होता है। हमारे स्त्रीरोग विशेषज्ञों द्वारा मणिपाल हास्पिटल्स में उपचार किए जाने वाले कुछ सामान्य यौवन विकारों में शामिल है; विलंबित यौवन - यौवन 13 साल की उम्र से शुरू नहीं होना; असामयिक यौवन - लड़कियों में 7 या 8 साल की उम्र से पहले यौवन बहुत जल्दी शुरू हो जाता है;…

Read More

सरक्लेज

सरक्लेज कभी-कभी, एक महिला का गर्भाशय ग्रीवा - गर्भाशय का सबसे निचला सिरा - गर्भावस्था की प्रगति के लिए कमजोर हो सकता है क्योंकि यह आसानी से खुल जाता है जिससे गर्भपात हो जाता है। सरवाइकल सेरक्लेज एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसमें विशेष रूप से छोटी गर्भाशय ग्रीवा वाली महिलाओं में गर्भाशय ग्रीवा को मजबूत करने के लिए टांके या सिंथेटिक टेप का उपयोग किया जाता…

Read More

पीसीओ क्लिनिक

पॉली-सिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम एक काफी सामान्य विकार है जो कई महिलाओं द्वारा अनुभव किया जाता है। इसका उपचार डॉक्टरों के पास उपलब्ध है जो हर एक रोगी की व्यक्तिगत रूप से विशिष्ट आवश्यकताओं के अनुसार आहार और जीवन शैली योजनाओं का निर्धारण करके रोग की निगरानी और नियंत्रण में मदद कर सकते हैं।

Read More

वेल वीमेन क्लिनिक

वेल वीमेन क्लिनिक हम समझते हैं कि महिलाओं को अपने जीवनकाल में अपने शरीर में कई बदलावों के लिए स्वाभाविक रूप से तैयार रहना होता है – इनमें मासिक धर्म और प्रसव से लेकर रजोनिवृत्ति और अधिक उम्र हो जाने पर प्रभावित करने वाली स्त्री रोग संबंधी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं शामिल हैं। यही कारण है कि हमारे समर्पित और विशिष्ट वेल वीमेन क्लिनिक उनकी सभी स्थितियों…

Read More

हिस्टेरोस्कोपी

हिस्टेरोस्कोपी हिस्टेरोस्कोपी एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग करके आपके डॉक्टर असामान्य रक्तस्राव के कारणों का निदान और उपचार करने के लिए आपके गर्भाशय के अंदर देख सकते हैं। हिस्टेरोस्कोपी एक हिस्टेरोस्कोप का उपयोग करके की जाती है, हिस्टेरोस्कोप एक पतली, प्रकाश व्यवस्था युक्त ट्यूब होती है जिसे गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय के अंदर की जांच करने के लिए योनि…

Read More

गर्भावस्था के दौरान आवश्यक होने…

गर्भावस्था के दौरान आवश्यक होने पर एंडोस्कोपी पहले किसी समय, गर्भावस्था के दौरान एंडोस्कोपी की प्रक्रिया को गर्भ स्थित भ्रूण के लिए खतरा माना जाता था। इसलिए आमतौर पर गर्भावस्था के दौरान एंडोस्कोपी को हतोत्साहित किया जाता है और, यदि बहुत ही ज्यादा आवश्यक हो, तो सिफारिश की जाती है कि ये प्रक्रियाएं दूसरी तिमाही के दौरान की जाएं। इन मामलों में, मणिपाल…

Read More

आनुवांशिक परामर्श

आनुवंशिक परामर्श आनुवंशिकी एक अत्यंत विशिष्ट चिकित्सा क्षेत्र है, जो आनुवंशिकता और जीन को शामिल करने वाले कुछ जोखिम कारकों के बारे में विचार करती है। प्रत्येक बच्चे को अपने जैविक माता-पिता दोनों से जीन विरासत में मिलते हैं और बदले में ये जीन विशिष्ट लक्षण व्यक्त करते हैं। मणिपाल हास्पिटल क्यों चुनें मणिपाल हास्पिटल्स में, हमारी अनूठी आनुवंशिक परामर्श…

Read More

लैप्रोस्कोपी

लैप्रोस्कोपी लैप्रोस्कोपी को डायग्नोस्टिक लैप्रोस्कोपी के रूप में भी जाना जाता है, यह एक सर्जिकल डायग्नोस्टिक प्रक्रिया है जिसका उपयोग पेट और प्रजनन अंगों के अंदर के अंगों की जांच के लिए किया जाता है। यह एक कम जोखिम वाली, न्यूनतम इनवेसिव प्रक्रिया है जिसमें केवल छोटे चीरों की आवश्यकता होती है। लैप्रोस्कोपी में अंगों को स्कैन करने के लिए लैप्रोस्कोप…

Read More

क्रोनिक विलस सैंपलिंग

क्रोनिक विलस सैंपलिंग (सीवीएस) यह मूल रूप से एक प्रसवपूर्व परीक्षण जिसमें कोरियोनिक विली का एक नमूना परीक्षण के लिए प्लेसेंटा से हटा दिया जाता है, कोरियोनिक विलस सैंपलिंग (सीवीएस) आईएनजी (सीवीएस) एक प्रसवपूर्व परीक्षण है जिसका उपयोग जन्म दोषों, आनुवंशिक रोगों और गर्भावस्था के दौरान अन्य समस्याओं का पता लगाने के लिए किया जाता है। मणिपाल हास्पिटल क्यों…

Read More

स्त्री रोग में रोबोटिक सर्जरी

स्त्री रोग में रोबोटिक सर्जरी रोबोटिक सर्जरी का क्षेत्र तेजी से विकसित हुआ है, और स्त्री रोग संबंधी स्थितियों के उपचार के लिए इसका उपयोग तेजी से बढ़ा है। इस अत्याधुनिक मशीन को संचालित करने के लिए अपने कौशल का उपयोग करते हुए, मणिपाल हॉस्पिटल्स के स्त्री रोग सर्जन रोबोट भुजाओं का संचालन करते हैं और ऐसी सटीक स्त्री रोग सर्जरी करते हैं जो मानव द्वारा अपने…

Read More

रजोनिवृत्ति क्लिनिक

रजोनिवृत्ति क्लिनिक रजोनिवृत्ति उम्र बढ़ने का एक स्वाभाविक हिस्सा है जिसमें महिला को होने वाला मासिक स्राव बंद हो जाता है। यह एक सामान्य प्रक्रिया है जो महिला के प्रजनन काल के वर्षों की समाप्ति को चिह्नित करती है। हालांकि, कुछ महिलाएं अपने मासिक धर्म चक्र में कुछ अनियमितताओं के कारण रजोनिवृत्ति को अच्छी तरह से संभाल नहीं पाती हैं जैसे या तो अंडाशय…

Read More

प्री-मेनोपॉज़ल और पोस्ट-मेनोपॉज़ल…

प्री-मेनोपॉज़ल और पोस्ट-मेनोपॉज़ल काउंसलिंग (रजोनिवृत्ति पूर्व और रजोनिवृत्ति उपरान्त परामर्श) पेरिमेनोपॉज़ का अर्थ समय से पहले रजोनिवृत्ति होना होता है और ऐसी स्थिति में सामान्य रजोनिवृत्ति जिसमें अंडाशय से एस्ट्रोजन का उत्पादन धीरे-धीरे कम होता जाता है, के आठ से 10 साल पहले ही रजोनिवृत्ति शुरू हो सकती है। यह आमतौर पर महिला की की आयु के 40 के दशक…

Read More

क्रायोसर्जरी

क्रायोसर्जरी उन्नत चिकित्सा प्रौद्योगिकी ने सर्जरी को आसान बनाकर और रोगियों के लिए अधिक आरामदायक बनाकर स्वास्थ्य सेवा की दुनिया में क्रांति ला दी है। क्रायोसर्जरी उनमें से एक है। इसे क्रायोथेरेपी भी कहा जाता है, इसमें असामान्य ऊतक को नष्ट करने के लिए तरल नाइट्रोजन या आर्गन गैस द्वारा उत्पादित अत्यधिक ठंड का उपयोग किया जाता है। मणिपाल हॉस्पिटल्स क्यों…

Read More

फाइब्रॉएड क्लिनिक

फाइब्रॉएड क्लिनिक चिकित्सा अनुसंधान इस बात की पुष्टि करता है कि 70-80 प्रतिशत महिलाएं अपने जीवनकाल में यूटेराइन फाइब्रॉएड का विकास करेंगी। फाइब्रॉएड मांसपेशियों की कोशिकाओं और ऊतकों की सौम्य वृद्धि होती है और इससे कैंसर होने का कोई खतरा नहीं होता है। हालांकि, कुछ महिलाओं में, विशेष रूप से रजोनिवृत्ति के दौरान, फाइब्रॉएड कई तरह की स्वास्थ्य स्थितियों…

Read More

इनफर्टिलिटी क्लिनिक उपचार

इनफर्टिलिटी क्लिनिक - उपचार उन दम्पत्तियों के लिए जिन्हें इनफर्टिलिटी के कुछ मुद्दों के कारण गर्भवती होना मुश्किल लगता है, हमारा इनफर्टिलिटी क्लिनिक एक वरदान है। बांझपन के मुद्दों के उपचार के लिए योग्यता और अनुभव से संपन्न हमारे क्लिनिक के इनफर्टिलिटी विशेषज्ञ दम्पत्तियों में बच्चा होने की संभावना में बाधा डालने वाली अंतर्निहित जटिलताओं की जांच और…

Read More

डे केयर प्रक्रियाएं

डे केयर प्रक्रियाएं हमारे सभी महिला और बाल क्लीनिक विभिन्न परीक्षण करने और ऐसी प्रक्रियाएं करने के लिए अत्यधिक सक्षम हैं जिनमें हास्पिटल में भर्ती होने की आवश्यकता नहीं होती है। इनमें से कुछ में हिस्टरेक्टॉमी, पेल्विकोस्कोपी और पेल्विक अल्ट्रासाउंड के साथ-साथ सर्वाइकल (कोन) बायोप्सी कोलपोराफी या योनि की दीवार की सर्जिकल मरम्मत, सर्वाइकल कैंसर के संकेतों…

Read More

प्रसूति सेवाएं

प्रसूति सेवाएं सामान्य प्रसूति देखभाल प्रत्येक गर्भावस्था अलग होती है, भले ही वह आपकी दसवीं गर्भावस्था हो। हम इस बात को पूरी तरह से समझते हैं और आपकी गर्भावस्था और आपके नवजात शिशु की व्यक्तिगत जरूरतों को पूरा करने का प्रयास करते हैं। हमारी प्रसूति देखभाल टीम देश में सर्वश्रेष्ठ टीम में से एक है और आपकी गर्भावस्था और वरीयताओं को समझने में आपकी सहायता…

Read More

स्त्री रोग संबंधी सेवाएं:

स्त्री रोग संबंधी सेवाएं स्त्री रोग संबंधी जांच महिलाएं अपने परिवार के कल्याण का ध्यान रखने के प्रयास में अक्सर अपने स्वास्थ्य की उपेक्षा करती हैं। हमारा दृढ़ विश्वास है कि विशेष रूप से 35 के बाद सभी महिलाओं को वार्षिक चेक-अप करवाना चाहिए, इसलिए व्यापक सहायता और परामर्श प्रदान करते हुए वर्ष भर नियमित परीक्षण करते हैं। इन महत्वपूर्ण स्क्रीनिंग परीक्षणों…

Read More

भ्रूण चिकित्सा और प्रसूति एवं…

भ्रूण चिकित्सा और प्रसूति एवं स्त्री रोग विषयक अल्ट्रासाउंड असिस्टेड रिप्रोडक्शन में फॉलिक्युलर इमेजिंग यह बच्चा पैदा करने की इच्छा रखने वाले लाखों दम्पत्तियों को आशा प्रदान करने वाले असिस्टेड रिप्रोडक्शन में सबसे महत्वपूर्ण परीक्षणों में से एक है। फॉलिक्युलर अध्ययन एवं निगरानी ओवेरियन फोलिकिल्स का अध्ययन करने के लिए की जाती हैं जिनका उपयोग अंडों का…

Read More

.

Facilities & Services

मणिपाल हॉस्पिटल्स का प्रसूति और स्त्री रोग विभाग एक अच्छी तरह से सुसज्जित माइक्रोबायोलॉजिकल और पैथोलॉजिकल लैब, ब्लड बैंक, रेडियोलॉजी विभाग द्वारा समर्थित है, जो विशेषज्ञों के साथ महिलाओं की देखभाल करता है जो न्यूनतम इनवेसिव स्त्री रोग संबंधी सर्जरी, स्त्री रोग संबंधी ऑन्कोलॉजी, मूत्रविज्ञान, प्रसूति और मातृ-भ्रूण चिकित्सा और प्रजनन एंडोक्रिनोलॉजी और बांझपन के इलाज के विशेषज्ञ हैं। मणिपाल हॉस्पिटल्स के सर्जन स्त्री रोग संबंधी सर्जरी के सभी पहलुओं के विशेषज्ञ हैं जिसमें साधारण न्यूनतम इनवेसिव सर्जरी से लेकर जटिल ओपन सर्जरी तक शामिल है। प्रसूति एवं स्त्री रोग उत्कृष्टता केंद्र की सेवाओं में शामिल हैं: - आउट पेशेंट / इनपेशेंट और आपातकालीन सेवाएं - प्रसूति सेवाएं - स्त्री रोग संबंधी सेवाएं

FAQ's

A gynecologist is a doctor who specializes in women's reproductive health. Obstetricians care for women during their pregnancy and just after the baby is born. They also deliver babies. An ob-gyn is trained to do all of these things.

Your doctor at the best gynecology hospital in Delhi will undergo an appropriate investigation and check-up and advice medications and/or surgery based on your condition and choice. They will discuss the plan of treatment and carry it out only after you give your consent for the same.

Well, it all depends on your condition and preference, if any. All of our patients come to Manipal Hospital, either by the hospital’s or the doctor’s name. You can run through the doctor’s profile on our website to know more about them. Besides, a doctor-patient relationship is about building trust. So, trust your doctor and cooperate with them while they work towards your benefit.

Well, this is just a myth believed to be true. Medical science has advanced to aid complication-free deliveries, even in complicated cases. We at Manipal, give our 100% to help you deliver normally. We support normal delivery and encourage mothers to come over the fear of pain. Delivery is a marathon race. You need preparation, trust, and dedication for the same. However, cesarean delivery is inevitable in certain cases and helps to reduce the morbidity and mortality rate for pregnant females and neonates. The cesarean procedure is well performed at the gynecology hospital in Delhi.

Yes, caesarean delivery is absolutely safe for both mother and baby, and there are very rare chances of a stitch line infection. However, obesity or uncontrolled diabetes increases your risk of infection. There is no pain during the surgery, and you can see your baby and feed. 

The day after the delivery, you might have pain for which you get painkillers. From the next day onwards, you are allowed to move around and go to the toilet.

The hospital has a lot of trained staff, and thus you do not need relatives to take care during your hospital stay. The top gynecology hospital in Delhi will provide all necessary items such as food, toiletries, and clothes.

No, not at all. You can be assured that there will be no pain or cut. The test involves just a touch with a brush to take your cervical discharge. You will not even realize when it is done. We would like you to come back again and share your experience with your friends and encourage them. To know more, visit the finest gynecology hospital in Delhi.

Well, this is just a myth. Ultrasounds done during pregnancy are crucial for having a healthy baby, and obviously, no one would like to compromise on that. Besides, research has not yet suggested any complications associated with ultrasound. Usually, five scans are carried out during pregnancy, and twins and complicated pregnancies may need more scans than normal patients. So, trust your doctor at the leading gynecology hospital in Delhi. Also, remember that radiation from a laptop, phone, and television is also harmful to the baby.

Blogs

Call Us