Fellowship & Membership

  • सदस्य, एशिया पैसिफिक ऑर्थोपेडिक्स एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, एसोसिएशन ऑफ स्पाइन सर्जन्स ऑफ इंडिया
  • एसोसिएट सदस्य, इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • एसोसिएट सदस्य, दिल्ली ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, आईएसकेएसएसए
  • आईएससीओएस सदस्य
  • आईएससीओएस सदस्य
  • सदस्य, प्रथम संस्करण की संपादकीय समिति, रीढ़ में लगी चोटों के व्यापक प्रबंधन पर आईएससीओएस पाठ्यपुस्तक, (2015), वाल्टर्स क्लूवर द्वारा प्रकाशित
  • सदस्य, आईएसएसआईसीओएन 2015 की आयोजन समिति, स्पाइनल कॉर्ड सोसाइटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्पाइन और स्पाइनल इंजरी सम्मेलनसदस्य, एएसआई लाइव स्पाइन सर्जरी कोर्स आयोजन समिति, जुलाई 2016
  • Field of Expertise

  • रीढ़ की विकृति
  • मिनिमली इनवेसिव स्पाइन सर्जरी
  • अपक्षयी रीढ़ विकार
  • रीढ़ का आघात
  • Languages Spoken

  • अंग्रेज़ी
  • हिन्दी
  • Talks & Publications

  • "मणिपाल अस्पताल द्वारका: डॉ सौरभ वर्मा डीएनए में लिखे गए एक लेख में कहते हैं कि पीठ दर्द को दूर रखने में मदद करने के लिए शरीर की मुद्रा ठीक बनाए रखें और अपनी दैनिक दिनचर्या में सरल व्यायाम शामिल करें Click Here
  • डॉ सौरभ वर्मा ने आज विश्व रीढ़ दिवस के उपलक्ष में दैनिक जागरण के लिए लिखे गए अपने एक विशेष लेख में कहा कि रोजाना 40 मिनट पैदल चलने से पीठ दर्द से राहत मिलेगी Click Here
  • डॉ. सौरभ वर्मा ने द पायनियर में लिखे एक लेख में लिखा है कि राजधानी में हड्डियों तक को कंपा देने वाली ठंड में रक्त के प्रवाह में कमी के कारण हमारी मांसपेशियां कैसे सख्त हो जाती हैं। Click Here"

    Languages Spoken

  • अंग्रेज़ी
  • हिन्दी
  • Fellowship & Membership

  • सदस्य, एशिया पैसिफिक ऑर्थोपेडिक्स एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, एसोसिएशन ऑफ स्पाइन सर्जन्स ऑफ इंडिया
  • एसोसिएट सदस्य, इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • एसोसिएट सदस्य, दिल्ली ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, आईएसकेएसएसए
  • आईएससीओएस सदस्य
  • आईएससीओएस सदस्य
  • सदस्य, प्रथम संस्करण की संपादकीय समिति, रीढ़ में लगी चोटों के व्यापक प्रबंधन पर आईएससीओएस पाठ्यपुस्तक, (2015), वाल्टर्स क्लूवर द्वारा प्रकाशित
  • सदस्य, आईएसएसआईसीओएन 2015 की आयोजन समिति, स्पाइनल कॉर्ड सोसाइटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्पाइन और स्पाइनल इंजरी सम्मेलनसदस्य, एएसआई लाइव स्पाइन सर्जरी कोर्स आयोजन समिति, जुलाई 2016
  • Field of Expertise

  • रीढ़ की विकृति
  • मिनिमली इनवेसिव स्पाइन सर्जरी
  • अपक्षयी रीढ़ विकार
  • रीढ़ का आघात
  • Talks & Publications

  • "मणिपाल अस्पताल द्वारका: डॉ सौरभ वर्मा डीएनए में लिखे गए एक लेख में कहते हैं कि पीठ दर्द को दूर रखने में मदद करने के लिए शरीर की मुद्रा ठीक बनाए रखें और अपनी दैनिक दिनचर्या में सरल व्यायाम शामिल करें Click Here
  • डॉ सौरभ वर्मा ने आज विश्व रीढ़ दिवस के उपलक्ष में दैनिक जागरण के लिए लिखे गए अपने एक विशेष लेख में कहा कि रोजाना 40 मिनट पैदल चलने से पीठ दर्द से राहत मिलेगी Click Here
  • डॉ. सौरभ वर्मा ने द पायनियर में लिखे एक लेख में लिखा है कि राजधानी में हड्डियों तक को कंपा देने वाली ठंड में रक्त के प्रवाह में कमी के कारण हमारी मांसपेशियां कैसे सख्त हो जाती हैं। Click Here"

    Field of Expertise

  • रीढ़ की विकृति
  • मिनिमली इनवेसिव स्पाइन सर्जरी
  • अपक्षयी रीढ़ विकार
  • रीढ़ का आघात
  • Fellowship & Membership

  • सदस्य, एशिया पैसिफिक ऑर्थोपेडिक्स एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, एसोसिएशन ऑफ स्पाइन सर्जन्स ऑफ इंडिया
  • एसोसिएट सदस्य, इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • एसोसिएट सदस्य, दिल्ली ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, आईएसकेएसएसए
  • आईएससीओएस सदस्य
  • आईएससीओएस सदस्य
  • सदस्य, प्रथम संस्करण की संपादकीय समिति, रीढ़ में लगी चोटों के व्यापक प्रबंधन पर आईएससीओएस पाठ्यपुस्तक, (2015), वाल्टर्स क्लूवर द्वारा प्रकाशित
  • सदस्य, आईएसएसआईसीओएन 2015 की आयोजन समिति, स्पाइनल कॉर्ड सोसाइटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्पाइन और स्पाइनल इंजरी सम्मेलनसदस्य, एएसआई लाइव स्पाइन सर्जरी कोर्स आयोजन समिति, जुलाई 2016
  • Languages Spoken

  • अंग्रेज़ी
  • हिन्दी
  • Talks & Publications

  • "मणिपाल अस्पताल द्वारका: डॉ सौरभ वर्मा डीएनए में लिखे गए एक लेख में कहते हैं कि पीठ दर्द को दूर रखने में मदद करने के लिए शरीर की मुद्रा ठीक बनाए रखें और अपनी दैनिक दिनचर्या में सरल व्यायाम शामिल करें Click Here
  • डॉ सौरभ वर्मा ने आज विश्व रीढ़ दिवस के उपलक्ष में दैनिक जागरण के लिए लिखे गए अपने एक विशेष लेख में कहा कि रोजाना 40 मिनट पैदल चलने से पीठ दर्द से राहत मिलेगी Click Here
  • डॉ. सौरभ वर्मा ने द पायनियर में लिखे एक लेख में लिखा है कि राजधानी में हड्डियों तक को कंपा देने वाली ठंड में रक्त के प्रवाह में कमी के कारण हमारी मांसपेशियां कैसे सख्त हो जाती हैं। Click Here"

    Talks & Publications

  • "मणिपाल अस्पताल द्वारका: डॉ सौरभ वर्मा डीएनए में लिखे गए एक लेख में कहते हैं कि पीठ दर्द को दूर रखने में मदद करने के लिए शरीर की मुद्रा ठीक बनाए रखें और अपनी दैनिक दिनचर्या में सरल व्यायाम शामिल करें Click Here
  • डॉ सौरभ वर्मा ने आज विश्व रीढ़ दिवस के उपलक्ष में दैनिक जागरण के लिए लिखे गए अपने एक विशेष लेख में कहा कि रोजाना 40 मिनट पैदल चलने से पीठ दर्द से राहत मिलेगी Click Here
  • डॉ. सौरभ वर्मा ने द पायनियर में लिखे एक लेख में लिखा है कि राजधानी में हड्डियों तक को कंपा देने वाली ठंड में रक्त के प्रवाह में कमी के कारण हमारी मांसपेशियां कैसे सख्त हो जाती हैं। Click Here"
  • Fellowship & Membership

  • सदस्य, एशिया पैसिफिक ऑर्थोपेडिक्स एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, एसोसिएशन ऑफ स्पाइन सर्जन्स ऑफ इंडिया
  • एसोसिएट सदस्य, इंडियन ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • एसोसिएट सदस्य, दिल्ली ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन
  • आजीवन सदस्य, आईएसकेएसएसए
  • आईएससीओएस सदस्य
  • आईएससीओएस सदस्य
  • सदस्य, प्रथम संस्करण की संपादकीय समिति, रीढ़ में लगी चोटों के व्यापक प्रबंधन पर आईएससीओएस पाठ्यपुस्तक, (2015), वाल्टर्स क्लूवर द्वारा प्रकाशित
  • सदस्य, आईएसएसआईसीओएन 2015 की आयोजन समिति, स्पाइनल कॉर्ड सोसाइटी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्पाइन और स्पाइनल इंजरी सम्मेलनसदस्य, एएसआई लाइव स्पाइन सर्जरी कोर्स आयोजन समिति, जुलाई 2016
  • Field of Expertise

  • रीढ़ की विकृति
  • मिनिमली इनवेसिव स्पाइन सर्जरी
  • अपक्षयी रीढ़ विकार
  • रीढ़ का आघात
  • Languages Spoken

  • अंग्रेज़ी
  • हिन्दी

Blogs

Our Success Stories

FAQ's

The prognosis of spinal cord injury depends upon the severity of the disease. Normally, the patient may have a certain level of recovery within 6 months of injury. After 6 months, the chances of recovery are small. Rehabilitation therapy may help to reduce the extent of disability.

Yes. It is very important to keep the head and neck of the patient immobilized. Any movement may increase the risk of complications. It is very important to keep the spinal cord stable during transport in an ambulance. Immobilization after an injury is an important deciding factor in determining recovery.

Currently, there is no cure for damages caused due to spinal cord injury. Certain medications and rehabilitation therapy may improve the patient's condition and make him more independent. Researches are ongoing to find a complete cure for this condition.

Appointment
Health Check
Home Care
Contact Us
Write to COO
Review Us
Call Us